हरिद्वार का अनोखा पुस्तकालय, जहां किताबे नहीं बल्कि शराब मिलती है

मदन मस्त पुस्तकालय

आदरणीय मदन जी कौशिक

सादर नमस्कार

शहर की प्रथम महिला महापौर अनिता शर्मा के साथ बृहस्पतिवार को गरीबों की बस्तियों में गरीब बच्चों के लिए आप सहृदय द्वारा जनता की निधि जिसे आप जैसे लोगों ने विधायक निधि नाम दिया है से बनवाएं तीन पुस्तकालयों को देखने का मौका मिला।

मान्यवर आपने गरीबों की बस्ती में गरीब बच्चों के लिए बहुत ही उच्च कोटि के मदन मस्त पुस्तकालय बनवाएं हैं। पहली बार गौर से देखने का मौका मिला। जिसके लिए धन्यवाद महापौर का।

मन में ख्याल आया कि आपने गरीबों और उनके बच्चों पर जो कृपा उड़ेल रखी है। उसकी जानकारी लोगों को होनी चाहिए ताकि वह आपका गुणगान कर सकें। एक पुस्तकालय का आपके नाम का पत्थर कृष्णा गली खड़खड़ी में वाल्मीकि बस्ती में बारात घर के अंदर लगा है। जिसमें पुस्तकालय का नाम कुंज गली लिखा है। बस्ती के लोगों ने बताया पुस्तकालय कभी चला ही नहीं है। वर्ष 2009-10में बना भवन जर्जर हो चुका है। ईंटें लगाकर मोहल्ले के लोगों ने जीने को थाम रखा है।

आपके पुस्तकालय में शराब के खाली पव्वे मिले हैं। कुंज गली के लिए स्वीकृत पुस्तकालय कृष्णा गली में कैसे पहुंचे गया। यह चमत्कार आप ही कर सकते हैं।दूसरा पुस्तकालय वार्ड नंबर नौ में टंकी नंबर 6 को बंद ताले में ही टूटी जाली से झांक कर देखा।शराब पव्वे तो नहीं दिखे पर मोटर साइकिल, फावड़े, पतीला दिखाई दिया। निरीक्षण के समय मौजूद नगर निगम के अधिकारियों को मालूम नहीं पुस्तकालय की चाबी किसके पास है।अलवत्ता आपकी कृपा से एक बोर्ड उस पर लगा हुआ है जिस पर लिखा मा. उच्च न्यायालय नैनीताल के आदेश के अनुसार 12 जनवरी 2017 को जस का तस स्थिति में नगर निगम को हस्तांतरित किया गया है।

तीसरा पुस्तकालय मीडिल क्लास व्हाइट कालर लोगों की कालोनी शिवलोक से सटी बस्ती में हैं। गजब का पुस्तकालय है जनाब आपका। इसके अंदर प्रधानमंत्री गरीब योजना का गेंहू सूख रहा था। बैड, पंखें, बक्शा और शराब के खाली पव्वों का ढ़ेर महापौर अनिता शर्मा ने हमें दिखाया।इस पर भी नगर निगम को हस्तांतरित का बोर्ड लगा है।धन्य है वह शहर जिसके आप 18 साल से निर्वाचित जनप्रतिनिधि है। गरीबों की बस्तियों की कृपा पव्वों से आप पर बरसती रहे।

आपका

रतनमणी डोभाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!